रेलवे ने टिकट बुकिंग सिस्टम में बड़ा बदलाव किया है. पिछले दिनों रेलवे को तत्काल टिकट की सुविधा का मिस यूज होने के बारे में कई शिकायतें मिली, जिसके बाद रेलवे की तरफ से तत्कार ऑनलाइन टिकट बुकिंग में बदलाव किया गया है. इंडियन रेलवे की तरफ से कहा गया कि मिस यूज को रोकने और दलालों पर नकेल कसने के लिए नए कदम उठाए गए हैं. रेलवे की तरफ से किए गए बदलावों को आपको ऑनलाइन टिकट बुकिंग से पहले ध्यान रखना होगा.

एक लॉगइन से एक टिकट
नए नियम के तहत यदि आप तत्काल श्रेणी में एक आईडी से लॉगइन करते हैं तो आपके सिर्फ एक ही टिकट की बुकिंग होगी. यदि आप दूसरे टिकट की बुकिंग करना चाहते हैं तो अपको फिर से लॉगइन करना होगा. एक बार में आप दो से अधिक तत्काल टिकट की बुकिंग नहीं करा सकेंगे.

25 सेकेंड का समय
रेलवे के नए नियम के तहत अगर आप ऑनलाइन रिजर्वेशन फॉर्म भर रहे हैं तो आपको हर यात्री की डिटेल भरने के लिए 25 सेकेंड का समय मिलेगा. वहीं भुगतान के लिए अधिकतम 10 सेकेंड का होगा. सिक्योरिटी कैप्चार भरने के लिए आपको 5 सेकेंड का समय मिलेगा. यानी यदि आप एक टिकट बुक कर रहे हैं तो आपको कुल 40 सेकेंड का समय मिलेगा.

महीने में छह टिकट
तत्काल टिकट में दलाली की शिकायत के बाद रेलवे की तरफ से यह निर्णय भी लिया गया है कि अब एक लॉगइन आईडी से एक दिन में केवल दो ही टिकट बुक हो पाएंगे. वहीं एक महीने में अधिकतम छह टिकट की बुकिंग आप करा सकेंगे.

ओटीपी जरूरी
सभी बैंकों के लिए ऑनलाइन टिकट की बुकिंग के दौरान नेट बैंकिंग से भुगतान करने पर वन टाइम पासवर्ड (OTP) जरूरी कर दिया गया है. ओटीपी की सुविधा सभी बैंक की नेट बैकिंग के लिए जरूरी है. साथ ही इलेक्ट्रॉनिक आरक्षण पर्ची पर क्यूआर बारकोड प्रिंट होगा.

दो कैप्चा देने होंगे
अब आईआरसीअीसी की वेबसाइट पर लॉगइन करते समय पहला कैप्चा और दूसरा कैप्चा भुगतान के समय देना होगा. यानी एक टिकट की बुकिंग के लिए दो बार कैप्चा देना होगा.

एक आईडी से छह टिकट
एक महीने में आप एक यूजर आईडी से अधिकतम 6 टिकट बुक करा सकेंगे. हालांकि अगर आपकी यूजर आईडी से आधार लिंक है तो आप एक महीने में 12 टिकट तक ऑनलाइन बुक कर सकते हैं.

क्विक बुकिंग फंक्शन नहीं होगा
भारतीय रेलवे की तरफ से अब सुबह 8 बजे से 12 बजे तक कोई भी यात्री अथवा एजेंट कंप्यूटर में क्विक बुकिंग फंक्शन सिस्टम का उपयोग नहीं कर सकेगा. रेलवे को तत्काल टिकट की फास्ट बुकिंग के लिए एजेंट की तरफ से कंप्यूटर में क्विक बुक फंक्शन सिस्टम ओके करने की शिकायतें मिल रही थीं.

सिक्योरिटी संबंधित प्रश्न
इंडियन रेलवे अब ऑनलाइन टिकट बुकिंग के दौरान रैन्डम्ली आपसे सिक्युरिटी क्वेश्चन के तौर पर पर्सनल इंफारमेशन जैसे नाम, ई-मेल, मोबाइल नंबर, चेक बॉक्स आदि की जानकारी मांग सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *