जिंदगी में पहले ही कम परेशानीयाँ है? कम टेंशन हैं? – Sweksha

आज जब फ्लायओवर से जा रहा था तो सामने भीड़ दिखी…. लगा की कोई दुर्घटना हो गयी है…. अपन गाड़ी स्टैंड पर लगा घटना स्थल तक पहूँचे….. भीड़ के बीच हल्की सी घायल लड़की खड़ी थी… लौंडो ने उनकी स्कुटी उठाकर दी और जिस कार ने इन्हें कट मारकर गिराया था उसके ड्राइवर के कार से उतरकर जब सॉरी बोलने आयेगा तो उसके कुटाई की तैयारी कर रहे थे…. आखिर हम जैसे जवान नागपुरीया लौंडा के होते हुये कोई बीच सड़क पर इतनी ज्यादा खूबसूरत लड़कीयों को ऐसे ही गिराकर चला जायेगा? धिक्कार है फिर तो।

जिस कार ने टक्कर मारी थी वह थोड़ा आगे ही जाकर रूकी थी… कार का दरवाजा खुला … पब्लिक ने आस्तीन उपर चढाया ही था पर यह क्या???… कार की ड्राइवर भी एक लड़की ही थी…. जब वह कार से उतरी तो वहाँ खड़े लगभग पचास के पचास दिल एक साथ धड़क उठे…. मोहतरमा स्कुटी वाली लड़की की तरह ही बेहद खूबसूरत …बेहद तराशी हुई थी…. अब दोनों लड़कीयाँ पास आकर लड़ने लगी… अब तक जो लौंडे स्कुटी वाली लड़की का साइड ले रहे थे वह पुरी तरह कन्फ्युज… इंसान हद से ज्यादा खूबसूरती से भी घबरा जाता है….

दोनों लड़कीयाँ पब्लिक से पुछ रही कि किसकी गलती है…. बेचारी पब्लिक कहे तो क्या कहे?… एक तरफ कुआं तो एक तरफ खाई… किसका पक्ष ले.. किसका दिल दुखा दे…. अंत में लौंडे जो है वह लौंडे ठहरे…. दोनों को समझाया की आप दोनों की ही गलती है… बीच सड़क पर झगड़ा अच्छी बात नहीं… वगैरह वगैरह… अंत में दोनों लड़कीयों ने सॉरी बोला… थोड़ी सी अंग्रेजीं बोली और चली गयीं…

खैर दोनों महिलाएँ सुरक्षित थीं… ज्यादा चोट वगैरह नहीं आयी…. लेकिन फिर भी मैं सभी लड़कीयों से निवेदन करूँगा की कृपया गाड़ी सँभाल कर चलाया किजीये…. हम पुरूषों के जिंदगी में पहले ही कम परेशानीयाँ है? कम टेंशन हैं? …. हमारे सामने प्लीज ऐसी दुविधा वाली स्थिति मत पैदा किया किजीये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *