Home » Ashish Jee- Poem

कुछ अलग जरा सा जी लो तुम

सादा जीवन तो जीते सब, कुछ अलग ज़रा सा जी लो तुम। पयपान सुधा तो पीते सब, जीवन गरलों को पी लो तुम। जो बीत गयी सो बात गयी, नहि उनसे अब कुछ पाना है। जीवन को दो…

Read More »