उनकी बहु, नहीँ उनकी पत्नि की बेटी

अंतरा की नई – नई शादी हुइ थी। उसकी और उसके पति पुनीत की लव मेरेज थी और वो दोनो अब हनीमून से लौट आए थे। शादी मे ली तक़रीबन 1महीने की छुट्टी मे अब 10 दिन ही शेष थे और क्योंकि अंतरा एक पढ़ी लिखी और नौकरीपेशा लड़की थी सो उसे और पुनीत को

हमेशा अच्छा करो

एक औरत अपने परिवार के सदस्यों के लिए रोज़ाना भोजन पकाती थी और एक रोटी वह वहाँ से गुजरने वाले किसी भी भूखे के लिए पकाती थी..। वह उस रोटी को खिड़की के सहारे रख दिया करती थी, जिसे कोई भी ले सकता था..। एक कुबड़ा व्यक्ति रोज़ उस रोटी को ले जाता और बजाय

टकराव के तीन सिद्धांत

टकराव का लक्ष्य अन्य व्यक्ति को नीचा दिखाना अथवा व्याकुल करना नहीं है। किसी का सामना करना कठिन होता है, क्योंकि कई बार इस का परिणाम यह होता है कि व्यक्ति संताप में डूब जाता है। आप जिस से टकराव कर रहे हैं वह व्यक्ति असहमति प्रकट कर सकता है, विरोध कर सकता है, अथवा

मेरे पास उसका पता है

रात के ढाई बजे था, एक सेठ को नींद नहीं आ रही थी, वह घर में चक्कर पर चक्कर लगाये जा रहा था। पर चैन नहीं पड़ रहा था । आखिर थक कर नीचे उतर आया और कार निकाली शहर की सड़कों पर निकल गया। रास्ते में एक मंदिर दिखा सोचा थोड़ी देर इस मंदिर

देश का नाम ही मिट्टी में क्यों ना मिल जाए

दुनिया में सबसे ज़्यादा रेप होने वाले देश में अमेरिका तीसरे स्थान पर है। जी हाँ अमेरिका। पर क्या कभी आपने एंजलीना जॉली, ड्वेन जॉनसन, आरनॉल्ड, विन डीजल, स्कारलेट आदि को हाथ में पर्चा लेकर बलात्कार के नाम पर अपने ही देश की बेइज्जती करते देखा है?? यकीनन नही देखा होगा। फिर भारत में क्यों

“समाजवाद” भी अंततोगत्वा फेल हो जाएगा

एक स्थानीय कॉलेज में अर्थशास्त्र के एक प्रोफेसर ने अपने एक बयान में कहा – “उसने पहले कभी किसी छात्र को फेल नहीं किया, पर हाल ही में उसने एक पूरी की पूरी क्लास को फेल कर दिया है l” क्योंकि उस क्लास ने दृढ़ता पूर्वक यह कहा था कि “समाजवाद सफल होगा और न

सेट पर अम्‍मा बोलते हैं और रात को सोने के लिए बुलाते हैं: संध्या नायडू

टॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच को लेकर कुछ दिनों से हंगामा मचा हुआ है. साउथ एक्ट्रेस श्री रेड्डी के कास्टिंग काउच के खिलाफ आवाज बुलंद करने के बाद हैदराबाद में 15 जूनियर कलाकारों ने एक साथ जुटीं और और कास्टिंग काउच को लेकर अपनी आपबीती सुनाई. इसी दौरान टॉलीवुड में करीब 10 सालों से

आज बताओ, मै सुन्दर या​ ​तुम अति सुन्दर नारी ?​

🌿💝श्याम एक दिन हँसकर बोले​ ​सुनो राधिका प्यारी,​ ​आज बताओ, मै सुन्दर या​ ​तुम अति सुन्दर नारी ?​ ​असमंजस में पड़ी राधिका​ ​कौन अधिक रुचिकारी​ ​दिन जैसी सफेद उजली मैं​ ​श्याम रात अंधियारी । ​मैं गोरी माखन सी कोमल​ ​श्याम सुरतिया कारी,​ ​पर कैसे कह दूँ मैं प्रियतम​ ​कारी सुरत तिहारी ।। ​हंसकर बोली जगतसुन्दरी​

कानपुर का जगन्नाथ मंदिर वर्षा की सटीक भविष्यवाणी करता है

उत्तर प्रदेश के औद्यागिक नगर कानपुर में अति प्राचीन भगवान जगन्नाथ का मंदिर सदियों से मानसून की सटीक भविष्यवाणी के लिये आसपास के क्षेत्रों में विख्यात है। जिले में भीतरगांव विकासखंड मुख्यालय के बेहटा गांव में स्थित मंदिर की छत से पानी की बूंद टपकने से क्षेत्रीय किसान समझ जाते है कि मानसून के बादल

My Uber driver

My Uber arrived and I was ready to leave for the airport, I boarded my Uber and was greeted with a smile (which isn’t that common). Saw my driver who was formally dressed with his blazer hanging over his seat. I re-checked with him are you sure you have come for me or am in

तिलक लगाने के बाद चावल के दाने क्यों लगाए जाते है

ये तो आपने अक्सर देखा होगा, कि जब आपके घर में कोई त्यौहार, शादी या पूजा का समय होता है, तो इसकी शुभ शुरुआत व्यक्ति को तिलक लगा कर की जाती है. जी हां ये तो सब को मालूम है कि पूजा के दौरान व्यक्ति को तिलक लगाया जाता है, क्यूकि तिलक लगाना शुभ माना

दिमाग को ठंडा रखिये!

एक बार एक आदमी किसी राजा के दरबार पहुंचा और उसने कहा, महाराज, मेरे पास दो रत्न हैं, जिनमें से एक बेशकीमती हीरा और दूसरा साधारण कांच का टूकड़ा। यदि आपके दरबार में किसी ने यह बता दिया कि कौन सा कांच है और कौन सा सच्चा हीरा, तो मैं यह हीरा आपके खजाने में

माता अंजनि के पूर्व जन्म की कहानी

हनुमान जी की माता अंजनि के पूर्व जन्म की कहानी कहते हैं कि माता अंजनि पूर्व जन्म में देवराज इंद्र के दरबार में अप्सरा पुंजिकस्थला थीं। ‘बालपन में वो अत्यंत सुंदर और स्वभाव से चंचल थी एक बार अपनी चंचलता में ही उन्होंने तपस्या करते एक तेजस्वी ऋषि के साथ अभद्रता कर दी थी ।

अपने नाम की पर्चियां ढूंढे

कैसे रहें खुश एक बार एक अध्यापक कक्षा में पढ़ा रहे थे अचानक ही उन्होंने बच्चों की एक छोटी सी परीक्षा लेने की सोची । अध्यापक ने सब बच्चों से कहा कि सब लोग अपने अपने नाम की एक पर्ची बनायें । सभी बच्चों ने तेजी से अपने अपने नाम की पर्चियाँ बना लीं और

क्या कभी किसी को कुछ देते भी हो ?

एक भिखारी था ! रेल सफ़र में भीख़ माँगने के दौरान एक सूट बूट पहने सेठ जी उसे दिखे। उसने सोचा कि यह व्यक्ति बहुत अमीर लगता है, इससे भीख़ माँगने पर यह मुझे जरूर अच्छे पैसे देगा। वह उस सेठ से भीख़ माँगने लगा। भिख़ारी को देखकर उस सेठ ने कहा, “तुम हमेशा मांगते