एक हाथ की क्या कहानी है?’

उस दिन ट्रेन लेट होकर रात्रि 12 बजे पहुँची। बाहर एक वृद्ध रिक्शावाला ही दिखा जिसे कई यात्री जान बूझकर छोड़ गए थे। एक बार मेरे मन में भी आया, इससे चलना पाप होगा, फिर मजबूरी में उसी को बुलाया, वह भी बिना कुछ पूछे चल दिया। कुछ दूर चलने के बाद ओवरब्रिज की चढ़ाई … Read more

अब मैं मंदिर नही आया करूँगी

बहुत सुन्दर कथा ************** एक महिला रोज मंदिर जाती थी ! एक दिन उस महिला ने पुजारी से कहा – “अब मैं मंदिर नही आया करूँगी !” इस पर पुजारी ने पूछा — “क्यों ?” तब महिला बोली — “मैं देखती हूँ लोग मंदिर परिसर में अपने फोन से अपने व्यापार की बात करते हैं … Read more

भगवान का स्वरूप

स्वामी विवेकानंद जी को एक बार एक राजा ने अपने भवन में बुलाया और बोला : तूम हिन्दू लोग मूर्ती कि पूजा करते हो जो की मिट्टी, पीतल, पत्थर की मात्र मूर्तियाँ ही है ! पर मैं ये सब नही मानता। ये तो मात्र एक पदार्थ हैं । उसी राजा के सिंहासन के पीछे किसी … Read more

पदमा गाय

*पदमा गाय – जिसका दूध बाल कृष्ण पिया करते थे…* पदमा गाय का बड़ा महत्व है पदमा गाय किसे कहते है पहले तो हम ये जानते है। एक लाख देशी गौ के दूध को 10,000 गौ को पिलाया जाता है, उन 10,000 गौ के दूध को 100 गौ को पिलाया जाता है अब उन 100 … Read more

सत्कार

*एक थका-मांदा शिल्पकार लंबी यात्रा के बाद एक छायादार वृक्ष के नीचे विश्राम के लिए बैठ गया। अचानक उसे सामने एक पत्थर का टुकड़ा पड़ा दिखाई दिया।* *उस शिल्पकार ने उस पत्थर के टुकड़े को उठा लिया, सामने रखा और औजारों के थैले से छेनी हथौड़ी निकालकर उसे तराशने के लिए जैसे ही पहली चोट … Read more

👣 *खोइचा* (कोंछ) 👣

जब भी माँ नानी के घर जाती, आने-जाने की तारीख लगभग तय ही रहती थी । यूँ कहें तो मम्मी जानती थी कि अमुक दिन, तय समय पर नानी की देहरी छोड़नी ही है। फिर भी जब आने के समय नानी जब उन्हें पूजा घर में ले जा कर, सूप में रखी चीजों को सीधा … Read more

गुड़ की मिठास

#गुड़_की_मिठास….🌿🌹🌿 . एक शादी के निमंत्रण पर जाना था, पर मैं जाना नहीं चाहता था। . एक व्यस्त होने का बहाना और दूसरा गांव की शादी में शामिल होने से बचना.. लेक‌िन घर परिवार का दबाव था सो जाना पड़ा। . उस दिन शादी की सुबह मैं काम से बचने के लिए सैर करने के … Read more

धर्मकथा —पहला श्रावण सोमवार कैसे करें व्रत ?

धर्मकथा —पहला श्रावण सोमवार कैसे करें व्रत ? 🙏🙏🌹🙏🙏 भोलेनाथ बहुत ही सरल स्वभाव ,सर्वव्यापी और भक्तों से शीघ्र ही प्रसन्न होने वाले देव हैं। हिन्दू कैलेंडर के अनुसार चैत्र मास के शुरू होने के बाद पांचवां मास श्रावण मास का हैं। देवशयन का यह प्रथम चातुर्मास हैं। इस मास में कथा -भागवत और अनगिनत … Read more

फ्यूज बल्ब

शहर में बसे एक क्षेत्र में एक बड़े आईएएस अफसर रहने के लिए आए जो हाल ही में सेवानिवृत्त हुए थे।‌ ये बड़े वाले रिटायर्ड आईएएस अफसर हैरान परेशान से रोज शाम को पास के पार्क में टहलते हुए अन्य लोगों को तिरस्कार भरी नज़रों से देखते और किसी से भी बात नहीं करते थे। … Read more

कोरोना के मरीज को जैसे “ऑक्सीजन” मिल गई

अभी रफाल का भूत उतरा नहीं, स्टेन स्वामी का और चढ़ गया – संसद सत्र बर्बाद हुए समझो – राहुल गाँधी और उसके “चपरासी” शागिर्दों को बस रफाल के लिए बोलने वाला दुनियां में कोई मिल जाये, बस उन्हें लगता है कोरोना के मरीज को जैसे “ऑक्सीजन” मिल गई — सारे आरोप भारत के सुप्रीम … Read more