काँधे पर दो वीर बिठा कर चले वीर हनुमान Lyrics in Hindi

ऐसे भक्त कहा कहा जग में ऐसे भगवान, काँधे पर दो वीर बिठा कर चले वीर हनुमान, राम पयो ग़ज हनुमत हंसा, अति प्रसन सुनी नाथ पर्सन सा, निश दिन रेहत राम के द्वारे राम महा दिन कपि रखवाले, राम चन्दर हनुमान चकोरा चितवत रेहत राम की ओरा, भक्त शिरोमणि ने भक्त वसल को लिया … Read more

हम वन के वासी, नगर जगाने आए

वन वन डोले, कुछ ना बोले, सीता जनक दुलारी, फूल से कोमल मन पर सहती, दुख पर्वत से भारी, धर्म नगर के वासी कैसे, हो गये अत्याचारी, राज धर्म के कारण लुट गयी, एक सती सम नारी। हम वन के वासी, नगर जगाने आए, सीता को उसका खोया, माता को उसका खोया, सम्मान दिलाने आए, … Read more

राम कहानी सुनो रे राम कहानी Lyrics in Hindi

राम कहानी सुनो रे राम कहानी । कहत सुनत आवे आँखों में पानी । श्री राम, जय राम, जय-जय राम ॥ दशरथ के राज दुलारे, कौशल्या की आँख के तारे । वे सूर्य वंश के सूरज, वे रघुकुल के उज्जयारे । राजीव नयन बोलें मधुभरी वाणी। ॥ राम कहानी सुनो रे राम कहानी…॥ शिव धनुष … Read more

राम भक्त ले चला रे, राम की निशानी Lyrics in Hindi

प्रभु कर कृपा पाँवरी दीन्हि सादर भरत शीश धरी लीन्ही। राम भक्त ले चला रे, राम की निशानी।, शीश पर खड़ाऊँ, अँखिओं में पानी॥ राम भक्त ले चला रे, राम की निशानी शीश खड़ाऊ ले चला ऐसे, राम सिया जी संग हो जैसे। अब इनकी छाँव में रहेगी राजधानी, राम भक्त ले चला रे राम … Read more

अवध में राम आये हैं Lyrics in Hindi

सजा दो घर को गुलशन सा अवध में राम आये हैं सजा दो घर को गुलशन सा अवध में राम आये हैं अवध में राम आये हैं मेरे सरकार आये हैं अवध में राम आये हैं मेरे सरकार आये हैं मेरे सरकार आये हैं लगे कुटिया भी दुल्हन सी लगे कुटिया भी दुल्हन सी अवध … Read more

राम के नाम का झंडा लेहरा है ये लेहरे गा Lyrics in Hindi

राम के नाम का झंडा लेहरा है ये लेहरे गा, येह त्रेता में फेहरा है कलयुग में भी फेहरे गा, हिन्दुस्तान की धरती क्यों नही जय श्री राम कहेगी, राम नाम नही मिटने वाला जब तक धरती रहेगी, इतहास गवाह रहा है ठेहरा है न ठेहरे गा, येह त्रेता में फेहरा है कलयुग में भी … Read more

राम सिया राम सिया राम Lyrics in Hindi

कौशल्या, दशरथ के नंदन, राम ललाट पे शोभित चन्दन, रघुपति की जय बोले लक्ष्मण, राम सिया का हो अभिनन्दन । अंजनी पुत्र पड़े हैं चरण में, राम सिया जपते तन मन में । मंगल भवन अमंगल हारी, द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी । राम सिया राम सिया राम जय जय राम राम सिया राम सिया राम … Read more

Thumak Chalat Ramchandra Ram bhajan Lyrics

ठुमक चलत रामचंद्रठुमक चलत रामचंद्र, बाजत पैंजनियांठुमक चलत रामचंद्र, बाजत पैंजनियांठुमक चलत रामचंद्रकिलकि-किलकि उठत धायकिलकि-किलकि उठत धाय, गिरत भूमि लटपटायधाय मात गोद लेत, दशरथ की रनियांठुमक चलत… बाजत पैंजनियांठुमक चलत रामचंद्रअंचल रज अंग झारिअंचल रज अंग झारि, विविध भांति सो दुलारिविविध भांति सो दुलारितन मन धन वारि-वारि, तन मन धन वारितन मन धन वारि-वारि, कहत … Read more