ऑनलाइन धोखाधड़ी / कपटपूर्ण प्रयासों के प्रति सावधान रहें

प्रिय ग्राहक,

कृपया ऑनलाइन धोखाधड़ी / कपटपूर्ण प्रयासों के प्रति सावधान रहें । धोखाधड़ी की कुछ मिलती-जुलती घटनायें / कपटपूर्ण प्रयास और जालसाजों से बचाव के कुछ उपाय निम्न प्रकार हैं:

केस-1. एक व्यक्ति को अनजान व्यक्ति से जो कि अपने आपको सरकारी चिकित्साकर्मी बता रहा है, का फोन कॉल आया जो कि ग्राहक से कोविड-19 टीकाकरण की अग्रिम बुकिंग के लिए आग्रह कर रहा है । यह अनजान व्यक्ति, उसे मेसेज द्वारा भेजे गए लिंक को खोल कर उसमें अपनी व्यक्तिगत सूचना यथा नाम, जन्म दिनांक, बैंक खाते के नंबर संबंधी सूचना भरने और सत्यापन के लिए ओटीपी बताने का आग्रह कर रहा है ।
सही विकल्प निम्न प्रकार है:
अनजान व्यक्ति से प्राप्त लिंक नहीं खोलना चाहिए व बैंक खाते की किसी भी प्रकार की सूचना, पिन और ओटीपी आदि नहीं बताना चाहिए । फोन काट देना चाहिए व इस प्रकार के लिंक को भी हटा देना चाहिए। कोई भी सरकारी चिकित्साकर्मी कोविड-19 टीकाकरण की अग्रिम बुकिंग के लिए नागरिकों को फोन करने के लिए अधिकृत नहीं है ।

केस-2. एक बैंक ग्राहक को अनजान व्यक्ति से फोन आया है और वह ग्राहक से अपनी के.वाई.सी सूचना शीघ्र अधतन कराने का आग्रह कर रहा है । यह अनजान व्यक्ति अपने आप को ब्रांच मैनेजर कह रहा है और ग्राहक को अपना नाम, जन्म दिनांक, एटीएम कार्ड नंबर, कार्ड एक्स्पायरी डेट व सत्यापन के लिए ओटीपी देने का आग्रह कर रहा है । ग्राहक के आनाकानी करने पर वह ग्राहक के मन में घबराहट पैदा करने का प्रयास करता है और एटीएम कार्ड ब्लॉक करने की धमकी भी देता है ।
सही विकल्प निम्न प्रकार है:
अन्य व्यक्ति को किसी भी प्रकार की सूचना और ओटीपी नहीं बताना चाहिए । बैंक स्टाफ कभी भी फोन पर ग्राहक से संवदेनशील सूचना नहीं मांगते हैं । यह फ्रॉड कॉल हो सकती है, फोन करने वाला व्यक्ति कोई जालसाज हो सकता है जो कि दी गई सूचना का दुरुपयोग कर ग्राहक के खाते से राशि निकाल कर धोखाधड़ी कर सकता है ।

केस-3. एक ग्राहक को अनजान व्यक्ति से फोन प्राप्त होता है जो कि उन्हें कम ब्याज पर, बिना पेपर औपचारिकताओं के मोबाइल पर भेजे गए लिंक में सूचना भरने के आधार पर बड़ी राशि का लोन देने का लालच / प्रस्ताव देता है। ग्राहक द्वारा इस प्रकार प्राप्त लिंक में सूचना भरने के पश्चात, एक अन्य अनजान व्यक्ति का फोन उसके पास आता है जो कि अपने-आप को नामी फ़ाइनेंस कंपनी का प्रबंधक बताते हुए लोन राशि जमा करने व वेरिफिकेशन पूरा कराने हेतु बैंक खाते की सूचना के साथ ओटीपी की मांग कर रहा है ।
सही विकल्प निम्न प्रकार है:
किसी अनजान व्यक्ति से प्राप्त इस प्रकार की फोन वार्तालाप / संदेश / लिंक पर भरोसा नहीं करना चाहिए । कोई भी नामी वित्तीय संस्थान, जिसमें बैंक भी सम्मिलित है, यथोचित पहचान-प्रक्रिया पूर्ण किए बिना लोन नहीं देते हैं – इस तथ्य पर प्रत्येक व्यक्ति को विश्वास करना चाहिए । कभी भी बैंक खाते की सूचना, ओटीपी व पिन किसी को नहीं बताएं ।

कृपया अनजान व्यक्ति से प्राप्त अवांछित कॉल / ईमेल / मेसेज जिसमें लालचपूर्ण प्रस्ताव यथा लॉटरी, पुरस्कार राशि व शीघ्र लोन के लिए प्रोसेसिंग शुल्क जमा करने आदि के लिए कहा जा रहा हो, की उपेक्षा करें व उन पर ध्यान नहीं देवें ।

शुभकामनाओं सहित,

महाप्रबन्धक
भारतीय स्टेट बैंक
कॉर्पोरेट केंद्र
जयपुर

Dear Customer,

Be careful of attempts of online cheating and forgery. Please find below some of the typical cheating cases / attempts and the suggested measures to avoid falling prey to fraudsters:

Case-1. A person received a phone call from a stranger posing himself as Govt Medical staff asking for advance booking of Covid-19 Vaccine on Govt rates. The stranger asked the customer to open the Link sent to him on his mobile via text message and fill up the information relating to his Name, Date of Birth, Bank account details and provide the OTP sent to his mobile for Verification.

Correct choice should be as under:
One should not open the link and should not share any information about bank account and OTP / PIN etc. One should immediately disconnect the phone call and remove the link. No Medical Staff from Govt. is supposed to call citizens for advance booking of Covid-19 Vaccine.

Case-2. A customer of a Bank received a phone call from a stranger for updating KYC details in bank account immediately. The person was introducing himself as Branch Manager. The so-called Branch Manager asked him for his name, Date of Birth, ATM Card Number, Card expiry date and OTP. The so-called Branch Manager was creating panic on the pretext of Blocking of ATM Card immediately if KYC details and OTP are not provided to him.

Correct choice should be as under:
Never share any information and OTP with any other person. Bank staff never calls to obtain sensitive information from any customer over phone. This may be a fraud call and the fraudster may cheat customer by transferring money from customer’s Bank account.

Case-3. A customer receives a call from a stranger offering high amount of loan on nominal interest without paper formality after filling up information in the link sent with the message. Immediately after filling up the information, customer receives a call from other stranger introducing himself as Manager of a reputed finance company asking for information about Bank account and OTP for verification before disbursement of the loan.

Correct choice should be as under:
One should never rely on such calls / messages / links received from strangers. One should believe the fact that none of reputed financial institutions including Banks disburse loans without proper identification and due diligence. Never share Bank account information / OTP or PIN with any other person.

Please avoid such phone calls, text messages and emails received from strangers offering you Lottery / Prize / Gift / Loans / attractive job offers and many such lucrative offers.

With Best Wishes,

General Manager
State Bank of India
Corporate Centre
Jaipur

Disclaimer: State Bank never sends e-mails and embedded links asking you to update or verify confidential, personal and security details. If you receive such emails/phone calls/SMS, NEVER RESPOND to them and report such matter to the bank at report.phishing@sbi.co.in

NOTE: This is a system generated mail so please do not reply to this mail.

Share Post:

About Author

admin

Recommended Posts

No comment yet, add your voice below!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *