म्हारो दढ़ियल इंजन

वन्दे भारत ट्रेन जब चली थी तो बहुत किस्से हुआ करते थे, अब भी हो रहे हों शायद लेकिन शुरूआती दौर में बहुत ज्यादा किस्से हुए। ये हाई स्पीड ट्रेन है चलने के पहले ही इसके दरवाजे लॉक हो जाते हैं फिर ट्रेन का मूवमेंट शुरू होता है। हम लोगों की आदत है कि पैसेंजर … Read more

परिवार है तो जीवन में हर खुशी, खुशी लगती है

एक पार्क मे दो बुजुर्ग बैठे बातें कर रहे थे…. पहला :- मेरी एक पोती है, शादी के लायक है… BE किया है, नौकरी करती है, कद – 5″2 इंच है.. सुंदर है कोई लडका नजर मे हो तो बताइएगा.. दूसरा :- आपकी पोती को किस तरह का परिवार चाहिए…?? पहला :- कुछ खास नही.. … Read more

ऊपर बैठ जाइए साहब

लस्सी का ऑर्डर देकर हम सब आराम से बैठकर एक दूसरे की खिंचाई मे लगे ही थे… कि एक लगभग 70-75 साल की माताजी कुछ पैसे मांगते हुए मेरे सामने हाथ फैलाकर खड़ी हो गईं .. उनकी कमर झुकी हुई थी ,.चेहरे की झुर्रियों मे भूख तैर रही थी ..आंखें भीतर को धंसी हुई किन्तु … Read more

पता ही नहीं चला

*पापा की परी* ससुराल जाते ही, सारा काम सीख जाती है l कभी हाथ जला, कभी बाजू जली, कभी उंगली कटी, कभी अंगूठा कटा, कभी पट्टी बांधे, कभी बैंडेड लगाए, कभी सिरप पिए, कभी दवाई खाए, कभी सिर को बांधे, बिना थके, बिना रुके, काम करती जाती । पापा की परी ससुराल जाते ही, सारा … Read more

पहले के दामाद vs अभी के दामाद

पहले के जमाने में दामाद की पूछ परख और स्वागत का तरीका भी अलग ही ढंग का होता था। जब कभी दामाद जी ससुराल जा धमकते, अफरातरफी का माहौल बन जाता था। यदि पूर्व सूचना पर आगमन होता तो क्या कहने। एक दो आदमी स्टेशन आते एक सूटकेस थामता, पहले से तय किये रिक्शे में … Read more

कर्ज वाली लक्ष्मी

एक 15 साल का भाई अपने पापा से कहा “पापा पापा दीदी के होने वाले ससुर और सास कल आ रहे है” अभी जीजाजी ने फोन पर बताया। दीदी मतलब उसकी बड़ी बहन की सगाई कुछ दिन पहले एक अच्छे घर में तय हुई थी। दीनदयाल जी पहले से ही उदास बैठे थे धीरे से … Read more

जीवन संगिनी – धर्म पत्नी की विदाई

अगर पत्नी है तो दुनिया में सब कुछ है। राजा की तरह जीने और आज दुनिया में अपना सिर ऊंचा रखने के लिए अपनी पत्नी का शुक्रिया। आपका फुला-फला परिवार सब पत्नी की मेहरबानी हैं। आपकी सुविधा असुविधा आपके बिना कारण के क्रोध को संभालती है। तुम्हारे सुख से सुखी है और तुम्हारे दुःख से … Read more

लग गई माँ की बीमारी तुम्हें भी?

*अपनों का त्याग-भावना की ओट में झूठ* “नानी! मैं एक कुल्फी और ले लूं, प्लीज़” चीकू ने फ्रिज खोलते हुए पूछा। “चीकू! तुम खा चुके हो ना? गलत बात, वो कुल्फी नानी की है,हटो वहाँ से।” मैंने अपने 6 साल के बेटे को आँखे तरेरीं। लेकिन तब तक चीकू की नानी कुल्फी उसके हवाले कर … Read more

कितनी रकम?

*आज कोरोना संक्रमण से एक 93 साल का बूढ़ा व्यक्ति ठीक हुआ और जब वह अस्पताल से डिस्चार्ज होने लगा, तब उसे अस्पताल के स्टॉफ ने एक दिन के वेंटिलेटर, oxygen के इस्तेमाल करने का बिल 13,000 रुपये का थमा दिया जो किसी कारणवश (बाकी बिल से) छूट गया था।* *जिसे देखकर वह बूढ़ा व्यक्ति … Read more

मानवता

एक दिन *मानव* पैदल वापस घर आ रहा था। रास्ते में बिजली के एक खंभे पर एक कागज चिपका दिखा। मोटे अक्षरों में लिखा था – *कृपया पढ़ें !!* फुरसत में था, तो पास जाकर देखा , तो लिखा था, *”इस रास्ते पर मैंने कल एक ₹ 50 का नोट गंवा दिया है। मुझे ठीक … Read more